कोई ये कैसे बताये के वो तन्हा क्यों है – कैफ़ी आज़मी

कोई ये कैसे बताये के वो तन्हा क्यों हैं

  कोई ये कैसे बताये के वो तन्हा क्यों हैं वो जो अपना था वो ही और किसी का क्यों हैं यही दुनिया है तो फिर ऐसी ये दुनिया क्यों हैं यही होता हैं तो आखिर यही होता क्यों हैं एक ज़रा हाथ बढ़ा, दे तो पकड़ लें दामन उसके सीने में समा जाये हमारी […]